Saturday, March 20, 2010

वोयारिज्म

वोयारिज्म एक नया शगूफा ...हम फ़िल्मी दुनिया का दिवालियापन देख रहे हैं और शायद मान रहे हैं की इस दुनियां मैं नया talent उभर रहा है ....जब की वो एक लीक पकड़ कर चल ने का आदि है या नक़ल को खूबसूरती से पेश करने का ...आज कल होड़ है mental disorders दीखाने की ...तारे ज़मी पर का दर्शील दिस्लाक्स्चिया से क्या पीड़ित हुआ सरे directors भी मेंटल disorders ढूंढने लगे ...फिर गजनी,,,फिर ....पा.....फिर ऑटिज्म खान॥
अब...... L.S.D ........... दिबाकर बनर्जी ये वोह ही शख्श है जिसने देव D मैं देवदास की ............क्या कहूँ ..जो कहना चाह रहा हूँ वो लिख नहीं सकता ... अब .L.S.D.... में वोयारिज्म पर ही पूरी फिल्म बना ली एकता कपूर जैसी नॉन सोसिअल भद्दी औरत इस की प्रोडूसर है जो सिर्फ चटकारे लेना जानती है पहले घर मैं घुस कर सास बहु के सीरियल बना कर अब ऐसी बेहूदा फिल्म .... विशाल , अनुराग कश्यप , मधुर ये सब जिनेह हम talent मान रहे है असल मैं frustration को भुना ना सीख गए है ..गाली गलौज..सेक्स ...non social relationships.... मतलब परस्ती....subjects हैं ... हम advancement मान कर ..सब देख रहे है और multiplex culture कहते है...ये सब जो वो दिखाते है हमारी कुंठाए है पर उनेह ख़त्म करने का क्या रास्ता है ....फिल्म हमारी कुंठाए बढ़ा नहीं रही हैं ?जो नहीं जानते उन को बता कर वे ऐसे लोगों को भी कुंठित कर देती हैं जो इस दुनियां से दूर हैं ..आप को याद होगा मधुर की पेज ३ के कई ऐसे सीन थे जिन से हम सभी ने नज़रे हटाली ....एक ..घिनोनी दुनिया ....जिसे वो अपने तक ही सिमित रखते तो बेहतर था ....... वे emotional अत्याचार .... और mental rape हमारा कर रहे हैं ......हम उन्हें अवार्ड दे रहे है .... प्रियंका को नेशनल अवार्ड दिया ..... देव D की पारो मैं क्या बुराई थी ....हम सब
वोयारिज्म .... से नज़र नहीं बचाते परइतना क्या जरुरी था इसे सार्वजनिक करना .....

Monday, March 1, 2010

foot fetishism

foot fetishishm पर बात पहुँचगई ...समीर को तो मैं जानता हूँ उसे पैर दो वो घुटनों तक तुरंत पहुँच जाता है मैंने अपनी लास्ट पोस्ट मैं पैरों की तारीफ मैं दो चार शब्द लिखे थे ...कुछ written मैं तो कुछ phone पर comment मिले ... britney spears, thomas Hardy, jhon gresim , jo , ....कई नाम हैं गूगेल पर देखें तो कई और नाम मिल जाएँ गे ये सभी foot lover हैं मैं अलग बात कहना चाह रहा था ...yes I. accept I AM too but ..पर मैं ने ये भी कहा था की कुछ पैरों पर लोट जाने का मन करता है ऐसे ही पैर हैं मेरे पिता के । सब से ज्यादा अपने पिता के पैरों को पसंद करता हूँ मैं बहुत बहुत भाग्य शाली मानता हूँ jo मुझे ऐसे पिता का पुत्र बनाया ..उनके पैरों को अक्सर देखता हूँ उनमें मुझे अजीब सी द्रढ़ता देखने को मिलती है jisne hum सभी को simit संसाधनों के बीच खड़ा होना सिखाया व ऐसे पाला की हम अपने जीवन मैं कुछ कर सकें । हमारे dicissions का उन्हों ने सम्मान किया और hum उनके majbut eradon से शक्ति बटोरते रहे । मेरी छोटी बेटी के पैर जब मैं अपने मुह पर रख लेता हूँ तो ऐसा लगता है की उस परमात्मा की तुलिका से अपने चेहरे को रंग रहा हूँ । मेरे भाई के पैर मुझे ऐसे लगे मनो वे मेरा अनुसरण करने को बने हैं पर कहीं वे रास्ता बदल न दें इसका थोडा सा डर है पर मैं बहुत खुश हूँ की इतने बर्षों तक वे मेरे से बंधे मेरे पीछे- पीछे आरहे हैं ॥ मेरी पत्नी के पैर मेरे पीछे पर कभी कभी मुझ से आगे निकलने की चेष्टा करते लगते हैं । मेरी मां के पैर बेहद खुबसूरत है यानी उनकी बनावट बहुत अच्छी है पर उनको लेकर मन मैं कोई भाव नहीं है ...पता नहीं क्यूँ ॥
अब बात foot fetism की ॥ ॥ शारीर का बेहद खुबसूरत भाग मैं foot की बात कर रहा हूँ nee और legs की नहीं .... आदमी पैर छोड़ सब कुछ देख डालता है कभी पैरों से किसी को पढने की कोशिश करो ..उन पर बनावटी हंसी या भाव नहीं आते वे हम को खोल कर रख देते हें. हमारे अन्दर एक तरेह का बनावटी पण है हम सब उनेह छुपाने ली कोशिश करते हें अपनी भेस भूषा अपनी language अपने हाव - भाव से बहुत कुछ छुपा भी लेजाते हें पर jo आपने किसी के भी पैरों को ढंग से देखें तो सब जान पड़ता है कुछ छुप नहीं पाता footwears से भी किसी को पहचाना जा सकता है ... मुझे अच्छे footwears पहनने वाली लडकियां बेहद पसंद हैंऔर अच्छे पैर वाली भी you may call it foot fetishm ..... अगली बार कोशिश करियेगा की पैरों से शुरुआत हो .........मुद्दा अभी खुला है आप आगे कह्सकते हैं .....

होली मुबारक

*दिगंबर खेलें *मसाने मैं होली इ भगवान शंकर , शमशान भूमि
नाग छोड़ें *गरल पिचकारी veman
ऊ साँपन की आयिएगयि टोली
दिगंबर खेलें मसाने मैं होली .
भुत पिसाचिन ने लोहू लगायो
भांग की नारद ने खायलाई गोरी,
मसाने मैं होरी ,दिगंबर खेलें
दिगंबर खेरें, मसाने मैं होरी ....

होली मुबारक सरकार ...होली मुबारक
सुमति